Vindhya Bachao- Vindhyan Ecology and Natural History Foundation

vindhyabachao logo

News Board

IMAGE चुनार मिर्जापुर: लकड़ी बीनने गई महिला को जंगली जानवरों ने नोच खाया, हुई मौत- IBN 24x7
Tuesday, 16 October 2018
लकड़ी बीनने गई महिला को जंगली जानवरों ने नोच खाया, हुई मौत... Read More...
IMAGE मीरजापुर में तालाब के पास दिखाई दिया मगरमच्छ तो लोगों ने पीट-पीटकर ली जान- दैनिक जागरण
Tuesday, 09 October 2018
मीरजापुर (मड़िहान) । स्थानीय थाना क्षेत्र के रजौहां गांव के... Read More...
IMAGE भालू के बच्चे पकड़ने वाले पांच शिकारी धराये- दैनिक जागरण
Monday, 08 October 2018
ड्रमंडगंज वन रेंज के बंजारी कंपार्टमेंट नंबर पांच से रात्रि... Read More...
पटेहरा के थपनवा गांव में सांप की दहशत- दैनिक जागरण
Monday, 24 September 2018
पटेहरा पुलिस चौकीक्षेत्र के बभनी थपनवा गांव के लोग सर्प दंश से... Read More...
IMAGE यूपी में रोंगटे खड़े कर देने वाले अंदाज में पकड़ा गया मगरमच्छ, तस्वीरों में देखिए पूरी कहानी - वन इंडिया
Friday, 14 September 2018
मिर्जापुर जिले के पहाड़ी क्षेत्रो में जंगली जानवरों का खतरा... Read More...

Saving the Sloth Bears of Mirzapur


हलिया (मिर्ज़ापुर) थाना के गड़बड़ा गाव के पास सेवटी नदी के पास के जंगल से भटककर एक हिरन का बच्चा आ गया इसको कुत्ते दौड़कर घायल भी कर दिए थे बाद में सूचना पाकर पहुंची वन विभाग की टीम ने उसका उपचार कराया और जंगल में छोड़वाया.रविवार को सुबह कुत्ते का शोर सुनकर गाव वालो ने जब ध्यान दिया तो पता लगा कि एक हिरन का बच्चा किसी प्रकार भटक कर गाव में आ गया था. उसे कुत्ते नोचने वाले ही थे की ग्रामीणों ने लाठी-डंडा पटक कर उनको भगा दिया.इसके बाद गाव के मुंशी धरकार ने उसे पकड़कर गाव वीरेन्द्र कुमार को दिया.जिन्होंने 100 नम्बर पर डायल कर पीआरवी ने वन अधिकारी ड्रमंडगंज एसपी सिंह को सूचित किया.वन अधिकारी ने मौके पर वन दरोगा स्वंयंवर प्रसाद और वन रक्षक सियाराम को भेजा.वन विभाग की टीम ने घायल हिरन के बच्चे को अपने कब्जे में लेकर उपचार कराया और सुरक्षित जंगल में छोड़वा दिया.

स्रोत : दैनिक जागरण, 5 दिसंबर 2017

Tags: Man Animal Conflict

Visitor Count

Today307
Yesterday581
This week2122
This month9548

2
Online