Vindhya Bachao-Vindhyan Ecology and Natural History Foundation

vindhyabachao logo

भालू के बच्चे पकड़ने वाले पांच शिकारी धराये- दैनिक जागरण


Photo-Poacher-KaimoorSacntuary-Oct-2018-Jagran

ड्रमंडगंज वन रेंज के बंजारी कंपार्टमेंट नंबर पांच से रात्रि गस्त के दौरान जंगली जानवरों का शिकार करने आए पांच शिकारियों को पकड़ा गया।

ड्रमंडगंज वन रेंज के बंजारी कंपार्टमेंट नंबर पांच से रात्रि गस्त के दौरान जंगली जानवरों का शिकार करने आए पांच शिकारियों को पकड़ा गया। साथ ही 14 लोगों के विरुद्ध भारतीय वन्यजीव संरक्षण के तहत मामला दर्ज किया गया। वन विभाग की टीम ने घेराबंदी कर शिकारियों को पकड़ा व उनके हथियार नष्ट किए।

वनक्षेत्राधिकारी ड्रमंडगंज भाष्कर प्रसाद पांडेय रात्रि में गस्त पर निकले थे। इसी दौरान बंजारी कंपार्टमेंट नंबर पांच के जंगल में लाइट चलती दिखाई दी। फायर की आवाज भी आई। जब वन विभाग की टीम जंगल की ओर बढ़ी तो शिकार करने आए शिकारी इधर-उधर भागने लगे। विभाग की टीम ने दौड़ाकर अभियुक्त हरीश, प्रेम लाल निवासी लोढ़ी हाटा मध्यप्रदेश तथा अर्जुन, साकेत, पवन निवासी भैसोड वलाय पहाड़ व भाई लाल निवासी बंजारी हलिया को दौड़ाकर पकड़ा। जबकि अन्य लोग भाग निकले। इनके पास से लोहे का फावड़ा, लोहे का हथौड़ा, लोहे का सब्बल, प्लास्टिक की बोरी व 12 बोर का ¨जदा कारतूस बरामद हुआ। भालुओं का करते हैं शिकार आरोपितों के साथ पुलिस जंगल में गई तो वहां देखा कि भालू के रहने की जगह को सब्बल, फावड़ा द्वारा तोडकर नष्ट कर दिया गया था और मगरगोह के गुफा को नष्ट कर दिया था। पकड़ गए अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि भालू के बच्चे को वे निकालकर मदारियों को बेचते हैं। जबकि मगरगोह का शिकार वे काला जादू के लिए तेल निकालकर बेचने के लिए करते हैं।

स्रोत- https://www.jagran.com/uttar-pradesh/mirzapur-five-hunters-catching-bear-children-18514452.html

Tags: Man Animal Conflict, Sloth Bear

Visitor Count

Today263
Yesterday877
This week5213
This month12006

1
Online