VENHF logo-mobile

ग्रामीणों ने वन कर्मियों को बनाया बंधक - अमर उजाला


सूचना पर पहुंची पुलिस ने मुक्त कराया 

मड़िहान थाना क्षेत्र के सिरसी रेंज के गोरथरा गांव का मामला, चालक को पकड़ा, ट्रेक्टर कब्जे में लिया 


मड़िहान थाना क्षेत्र के सिरसी रेंज के गोरथरा गांव में जोताई रोकने के लिए पहुंची वन विभाग की टीम को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया| सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुँच कर उनको छुड़ाया| 

बुधवार को गोरथरा गांव में स्थित वन विभाग की जमीन पर जोताई की सूचना क्षेत्रीय वनाधिकारी पप्पूराम को मिली| वे अपने सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंचे और जोताई को रोकवा दी| साथ ही जोताई कर रहे ट्रेक्टर को भी कब्जे में ले लिया| यह बात किसानो को नागवार गुजरी और उन्होंने क्षेत्रीय वनाधिकारी समेत सभी वन कर्मियों को बंधक बना लिया| इस बात की सूचना जब पुलिस को मिली तो वह मौके पर पहुंची और वन कर्मियों को मुक्त कराया| साथ ही चालक समेत ट्रेक्टर को भी कब्जे में ले लिया| ट्रेक्टर लेकर वनकर्मी सिरसी रेंज चले गए | 

घटना के बारे में बताया जाता है कि सिरसी वन रेंज के गोरथरा गाँव स्थित जाइका परियोजना अन्तर्गत पांच वर्ष पूर्व पौधरोपण में लाखों रुपये खर्च हुए थे| कलवारी माफ़ी गाँव के निवासी पेड़ों को नष्ट कर जंगल की जमीन पर जोताई करने लगे| जानकारी होने पर क्षेत्रीय वनाधिकारी सिरसी पप्पूराम अपने साथ वन दरोगा विनीत तिवारी, हरिशचंद्र पटेल, अवधेश कुमार यादव, कमला पटेल, काशीनाथ मौर्या, ,भोला पटेल, सुखलाल, जोगेश्वर मौके पर पाउच गए| इसके बाद ग्रामीणों ने उनको रोक लिया | 

क्षेत्रीय वनाधिकारी पप्पूराम ने बताया कि पुलिस न पहुँचती ग्रामीण किसी भी हद तक जा सकते थे| उन्होंने कहा की चिन्हित कर आरोपियों के खिलाफ क़ानूनी कार्यवाई की जाएगी | 

 

स्रोत: अमर उजाला मिर्जापुर संस्करण 24/10/2019 पृष्ठ - 5 

Tags: Amar Ujala, encroachment

Visitor Count

Today200
Yesterday806
This week3336
This month19652

1
Online